December 28, 2013

तंग आ चुके हैं कशमकश-ए-ज़िन्दगी से हम (लाइट हाउस -1958) Tang aa chuke hain kashmkash-e-zindagi se hum (Light House -1958)

तंग चुके हैं कशमकश--ज़िन्दगी से हम
ठुकरा ना दें जहां को कहीं बेदिली से हम |

लो आज हमने तोड़ दिया रिश्ता--उम्मीद
लो अब कभी गिला ना करेंगे किसी से हम |

गर ज़िन्दगी में मिल गये फिर इत्तफ़ाक़ से 
पूछेंगे अपना हाल तेरी बेबसी से हम |

आसमान वाले कभी तो निगाह कर 
अब तक ये ज़ुल्म सहते रहे खामोशी से हम |

[Composer : N.Dutta, Singer : Asha Bhonsle, Director : G.P.Sippy]

 

No comments:

Post a Comment